Sun. Mar 3rd, 2024

कर्नाटक के जवानों को राहत,हुबली लेकर रवाना हुई विशेष ट्रेन, सात दिन से कर रहे थे इंतेजार

बैतूल। बैतूल पिछले सात दिन से बैतूल में फंसे कर्नाटक के 1400 जवानों की आज बैतूल से रवानगी हो गई। उनके लिए ग्वालियर से पहुंची विशेष ट्रेन से उन्हें हुबली के लिए रवाना किया गया है। चुनाव ड्यूटी में पहुंचे यह जवान यहां सात दिन से ट्रेन का इंतजार कर रहे थे।

IRCTC ने आज कर्नाटक के जवानों के लिए पीएचक्यू की डिमांड के बाद दोपहर में बैतूल रेलवे स्टेशन पर विशेष ट्रेन भेजी। ग्वालियर से आई यह ट्रेन इटारसी के रास्ते हुबली के लिए रवाना हुई है। यह जवान 25 नवंबर को हुबली पहुचेंगे। इसके पहले रेलवे प्रशासन को ट्रेन का इंडेंट न मिलने से ट्रेन नहीं मिल सकी थी। कर्नाटक प्रशासन, पीएचक्यू भोपाल और IRCTC के समन्वय के बाद आज यह ट्रेन बैतूल रेलवे स्टेशन पहुंची।जिससे सभी जवानी को रवाना किया गया है।

बता दें कि बैतूल में पिछले 17 नवंबर को हुए विधानसभा चुनाव के मतदान के लिए सुरक्षा व्यवस्था बनाने पुलिस विभाग ने कर्नाटक का बल बुलवाया था। इसके लिए एक विशेष ट्रेन के जरिए हुबली से 1400 होम गार्ड सैनिकों का बल पिछले 15 नवंबर को यहां पहुंचा था। इन जवानों से 17 नवंबर को सुरक्षा कार्य लेने के बाद इन्हें दूसरे ही दिन 18 नवंबर को हुबली के लिए वापस रवाना करना था। लेकिन सात दिन बीतने के बावजूद इन जवानों की वापसी नही हो सकी थी।

ये जवान रोज उन्हें वापस ले जाने के लिए आने वाली विशेष ट्रेन का इंतजार कर रहे थे। कर्नाटक के पुलिस विभाग ने एमपी पुलिस की मांग पर अपने प्रदेश के कारवार (उत्तरकर्नाटक),बेलगाम,बीजापुर,बालकोट, गडग,हवेरी,धारवाड़ जिलों से यहां होम गार्ड जवानों का बल भेजा था। इसमें 1400 जवान शामिल है। इन जवानों को सभी जिलों से हुबली में एकत्रित कर ट्रेन के जरिए यहां लाया गया था। बैतूल पुलिस ने इन जवानों को बैतूल शहर के अलग अलग हॉस्टल और धर्मशालाओं में ठहराया था। जहां यह जवान पिछले सात दिनों से बगैर काम के पड़े हुए थे। इनमें कुछ बीमार हो रहे थे। तो कुछ को आबो हवा सूट नहीं हो रही थी। वे जल्दी से जल्दी अपने घर पहुंचना चाहते थे, लेकिन ट्रेन के न पहुंच पाने की वजह से यह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *