Fri. Jun 14th, 2024

कोयला पेंशनर्स ने प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा

मांग पूरी नहीं होने पर जनवरी से आंदोलन की चेतावनी दी

बैतूल। हिन्द मजदूर सभा बैतूल से जुड़े कोयला पेंशनर्स ने आज (शुक्रवार को) 6 सूत्रीय मांगों को लेकर प्रधानमंत्री के नाम लेकर ज्ञापन सौंपा।

बता दें कि पेंशनर्स लंबे समय से पेंशन रिवीजन समेत मंहगाई भत्ते, मेडिकल अलाउंस की मांग कर रहे हैं। पेंशनर्स ने बताया कि 2 महीने पहले सी.आई.एल. चेयरमैन को हमारी मांगों का ज्ञापन सौंपा था। पूर्व सी.एम.डी.सी.आर.बी. माथुर को भी पत्र दिया था। लेकिन इसका अभी तक कोई निराकरण नहीं हुआ। 2016 से कई बार कोयला मंत्री को भी ज्ञापन दिया जा चुका है। वर्ष 2019, 2021, 25 जुलाई 2022 एवं 5 दिसंबर.2022 को जंतर-मंतर पर धरना भी दिया जा चुका है। लेकिन उनकी मांगों पर विचार नहीं किया गया।

यदि 31 दिसम्बर 2023 तक हमारी मांगों का समाधान नहीं किया गया तो आल इंडिया कोल पेंशनर एसोसिएशन के संयोजक पी.के. सिंह राठौर के आवाहन पर 22 जनवरी 2024 को सी.आई.एल.सी.एम.डी. के कार्यालय कलकत्ता में प्रदर्शन किया जाएगा तथा 12 फरवरी 2024 को पुनः जंतर-मंतर नई दिल्ली पर धरना दिया जाएगा।

यह कर्मचारियों की मांग

कोयला खान पेंशन योजना के लोक लेखा समिति की रिपोर्ट (18 मार्च 2020 को सांसद में प्रस्तुत) में निहित सुझावों का त्वरित कार्यान्वयन हो।

पेंशन रिवीजन प्रत्येक तीन वर्षों के अनुपात में वर्ष 1998 से वर्ष 2023 तक 25 वर्षों का पेंशन रिवीजन कर भुगतान किया जाए।

पेंशन संशोधन का बेसिक का 25% से बढ़ाकर 50% पेंशन दिलाया जाए।

पेंशन के साथ मंहगाई भत्ता (DA) जोड़कर दिया जाए।

सभी कोल कर्मचारियों को भी डोमेस्टिक मेडिकल अलाउंस 3000/- (तीन हजार) रूपए प्रतिमाह पेंशन के साथ दिया जाए।

वर्ष 2017 से 2018 के बीच जो कर्मचारी सेवानिवृत्त हुए है. उन्हें भी ग्रैचुइटी का लाभ दिया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *