Fri. Jul 19th, 2024

पुलिस की मध्यस्थता से विधवा युवती का संवरा जीवन

मुलताई। तहसील क्षेत्र के ग्राम सोनोली में रहने वाली विधवा की खुशी उस समय दोगुनी हो गई जब पुलिस की मध्यस्थता से अब वह दोबारा अपनी उजड़ चुकी मांग में सिंदूर भर सकेगी।
मामले के संबंध में मिली जानकारी अनुसार ग्राम सोनिया निवासी सतीश पिता साहेबराव सोनारे का नागपुर निवासी युवती से विवाह हुआ था। जिससे उनके आंगन में बेटे की किलकारी गूंजी थी। लेकिन पत्नी से उसकी ज्यादा दिन निबाह नहीं हो सका,और पत्नी उसे छोड़ कर अपने मायके नागपुर चली गई। इस दौरान उसकी मुलाकात ग्राम सोनोली निवासी विधवा मीरू से ही गई। दरअसल मीरू भी अकेले जीवन की गाड़ी कैसे चलेगी यह सोच कर हमउम्र सतीश की तरफ दोस्ती का हाथ बढ़ाने की रह पर चल पड़ी। बताया जा रहा है की लगभग दोनों दो वर्ष तक एक दूसरे के हमराह बन चुके थे। इस दौरान मीरू को भनक लगी की सतीश किसी अन्य लड़की से विवाह करने की तैयारी में है। जिसके बाद वह सोमवार को सीधे थाना पहुंच गई। जहां उसने अपनी जीवन की परेशानी तथा दो साल तक जिस युवक के साथ रही उसके द्वारा किसी अन्य से शादी करने की बात बताई,तथा लड़के को समझाने की गुहार लगाई। एस आई सोनम साहू ने पूरी घटना से थाना प्रभारी को अवगत करते हुए लड़के को थाना बुलवाकर समझाइश देते हुए दोनों को सारा जीवन एक साथ बिताने के लिए कहा। जिसके बाद मंगलवार को सतीश राजी हो गया। वही पुलिस स्टाफ द्वारा तत्काल माला का इंतजाम करते हुए लड़का लड़की के परिजनों को बुलवाकर दोनों को एक दूसरे के गले में माला डलवाकर शादी करवाई। वही दोनों को इकरारनामा कोर्ट में तैयार कराकर एक साथ रवाना किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *