Sun. Mar 3rd, 2024

बैतूल के शैलेन्द्र आर्य, घनश्याम मदान ने लम्बे समय तक मोहन यादव के साथ संगठन का काम किया


बैतूल। लम्बे इंतजार के बाद अन्तत: आज शाम मध्यप्रदेश के नए मुख्यमंत्री के रूप में मा. मोहन यादव का नाम सामने आ गया है। जिसे प्रदेश में नया चहरा कहा जा रहा है।
लेकिन बैतूल जिले के लिये यह नया चेहरा नही है। मोहन यादव ने लम्बे समय तक अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में काम किया है। इस दौरान ताप्ती समन्वय के वर्तमान ब्यूरो चीफ शैलेन्द्र आर्य ने लम्बे समय तक मोहन यादव के साथ अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के संगठन का कार्य किया। उस समय मोहन यादव विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय मंत्री तथा प्रदेश मंत्री के पद पर थे। उस समय 1984 से 1990 के बीच ताप्ती समन्वय के बैतूल ब्यूरो चीफ शैलेन्द्र आर्य बैतूल जिले के जिला संयोजक रहे और लम्बे समय तक संगठन का कार्य किया। इसी तरह वर्तमान में जयवन्ती हक्सर महाविद्यालय बैतूल के वर्तमान जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष घनश्याम मदान ने मोहन यादव के साथ होशंगाबाद विभाग प्रमुख के रूप में लम्बे समय तक अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में काम किया है।

मोहन यादव के विषय में चर्चा करने पर शैलेन्द्र आर्य एवं घनश्याम मदान ने बताया कि मा. मोहन यादव अभुतपूर्व संगठन क्षमता के धनी है। तथा भारतीय जनता पार्टी के जमीनी कार्यकर्ता है। मोहन यादव के मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री बनने से जहां संगठन को बल मिलेगा वहीं आम जनता को भी बेहतर प्रशासनिक व्यवस्था मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *