Sun. Mar 3rd, 2024

मानसिक रूप से विक्षिप्त महिला DEO बनकर पहुंची कार्यालय मचा हड़कंप

बैतूल।जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक महिला दनदनाते हुए पहुंची और सीधे डीईओ के चेंबर में जाकर उनकी कुर्सी पर बैठ गईं। जब कार्यालय के कर्मचारियों ने उनसे पूछताछ की तो स्वयं को बैतूल का नया डीईओ बताकर अपना रौब झाड़ने लगीं। खबर मिलते ही जिला शिक्षा अधिकारी डा अनिल सिंह कुशवाह भी भागे-भागे दफ्तर पहुंचे। चेंबर में देखा तो उनकी कुर्सी पर एक महिला बैठी हुई है और स्वयं को नया डीईओ बता रही हैं। अचानक हुए इस बदलाव की काेई भनक तक न लगने पर डीईओ कुशवाह हैरान परेशान हो गए। उन्होंने भोपाल कार्यालय में पूछताछ की तो पता चला कि ऐसा कोई आदेश ही नहीं हुआ है।
उन्होंने जब महिला से पूछताछ की तो उसके द्वारा अभी आदेश पहुंच जाने की जानकारी देते हुए स्वयं को बैतूल का नया डीईओ ही बताया। काफी देर तक जब पुष्टि करने पर यह पता चला कि डीईओ के संबंध में कोई आदेश नही हुआ है और जो भी है वह फर्जी है। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। कोतवाली पुलिस की महिला डेस्क प्रभारी और अन्य महिला पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे।
महिला को कोतवाली लाकर पूछताछ की तो उसके मानसिक रूप से बीमार होने का पता चला। महिला के पास मिले मोबाइल में अंतिम बार जिस नंबर पर बात हुई थी उस पर फोन लगाया गया तो पता चला कि वह बैतूलबाजार के पास किसी गांव का है और खुद को डीईओ बताने वाली महिला का वह भाई है। पुलिस ने उन्हें कोतवाली बुलाया और पूछताछ की तो पता चला कि महिला का नाम देवकी चौकीकर है और उसके पति शिक्षक के पद पर जिले में ही पदस्थ हैं। मानसिक रूप से बीमार होने पर उसका उपचार नागपुर के अस्पताल में चल रहा है। कई बार वह ऐसी ही हरकतें कर चुकी है। पुलिस ने महिला के बीमार होने पर उसके भाई के सुपुर्द कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *