Sun. Apr 14th, 2024

लैब टेक्नीशियन की कमी से जूझ रहा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र

मुलताई। नगर का सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लैब टेक्नीशियन की कमी से जूझ रहा है। वर्तमान में एकमात्र लैब टेक्नीशियन के भरोसे अस्पताल में होने वाले सभी टेस्ट संपादित हों रहे है। नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य में 3 लैब टेक्नीशियन की नियुक्ति होना था किंतु एक मात्र लैब टेक्नीशियन की ही पद स्थापना होने से समय पर जांच रिपोर्ट नही दे पा रहे है। सरकारी अस्पताल में शासन द्वारा विभिन्न जांच की सेवा तो शुरू करवाई है किंतु जांच करने वाले लैब टेक्नीशियन की नियुक्ति नहीं होने से आम जनता को समय पर जांच रिपोर्ट नही मिल पा रहीं हैं। उल्लेखनीय है कि शासन द्वारा विभिन्न योजनाएं चलाई जा रही है। जिसमे केंद्र की प्रधानमंत्री टीबी मुक्त भारत अभियान भी शामिल है।इसके अलावा सिकल सेल एनीमिया अभियान, मलेरिया जांच अभियान के साथ ही गर्भवती महिलाओ की एएनसी प्रोफाइल जांच जिसमे छः से सात प्रकार की जांच शामिल है। (दैनिक रिपोर्टिंग भी करना अनिवार्य)नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में एक मात्र पदस्थ लैब टेक्नीशियन के भरोसे पूरे मुलताई विकास खंड के मरीजों की जांच का जिम्मा है। लैब टेक्नीशियन की कमी के चलते पदस्थ लैब टेक्नीशियन के पीछे एक और महत्वपूर्ण जिम्मेवारी भी है। वह है दैनिक रिपोर्टिंग की। जिससे तहत प्रतिदिन की जाने वाली जांच का ब्योरा जिला मुख्यालय सीएमएचओ कार्यालय को देना होता है। वह भी अलग अलग जांच के अनुसार। अब यदि लैब टेक्नीशियन लिए गए सैंपल की जांच मशीनों के माध्यम से करे या अन्य प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र से आए सेंपलो को जांच हेतु लगाए या दैनिक रिपोर्टिंग की जानकारी बनाए? जिससे दोनो ही कार्य प्रभावित हो रहे है। (तीन वर्ष से लैब टेक्नीशियन के 2 पद है रिक्त)नगर में संचालित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में बीते तीन वर्ष से 2 लैब टेक्नीशियन के पद रिक्त है। जिसके कारण लैब से दी जाने वाली सेवाए समय पर मरीजों को उपलब्ध नहीं हो पा रही है। स्थानीय जनप्रतिनिधियों को अपने क्षेत्र की जनता को समय पर स्वास्थ्य सेवाओं को मुहैया कराने हेतु अस्पताल में रिक्त पदों की पूर्ति करने हेतु प्रयास किया जाना चाहिए ताकी जनता को समय पर जांच रिपोर्ट प्राप्त हो सके।(3 अन्य प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर भी नही है लैब टेक्नीशियन)नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर 2 लैब टेक्नीशियन की कमी तो बनी हुई है ही किंतु ब्लॉक के तीन बड़े ग्रामों में संचालित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में भी लैब टेक्नीशियन की नियुक्ति नहीं हुई है। विकास खंड के ग्राम दुनावा, बरखेड़ तथा खेड़ी कोर्ट प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में नियमानुसार एक एक लैब टेक्नीशियन नियुक्त होना चाहिए, किंतु इन केंद्रों पर भी पड़ रिक्त ही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *