Fri. Jun 14th, 2024

वन विभाग ड्रोन की मदद से कर रहा तेंदुए की तलाश

दहशत में जी रहे ग्रामवासी

बैतूल। बीते एक पखवाड़े से बैतूल जिले के दक्षिण वन मंडल के ताप्ती वन परिक्षेत्र की कनारा बीट में तेंदुए की मौजूदगी बनी हुई है। इसके साथ ही वह किसानों के मवेशियों पर हमला कर उन्हें अपना ग्रास बना रहा है। इससे ग्रामवासी भी भारी दहशत में हैं।

बैतूल अपडेट ने इस संबंध में लगातार खबरें प्रकाशित कर वन विभाग के  उच्चाधिकारियों का ध्यान इस ओर आकर्षित किया। नतीजतन वन मंडलाधिकारी (दक्षिण) ने मामले को संज्ञान में लेते हुए ड्रोन की मदद से तेंदुए की तलाश करने के निर्देश दिए।

डीएफओ के निर्देश पर ग्राम चिचढाना और सराड़ गांव में 21 दिसम्बर को 8 घंटे ड्रोन चलाया गया और तेंदुए की सर्चिंग की गई। सहायक परिक्षेत्र अधिकारी ओमकार मालवी और बीटगार्ड महेश सोनी ने गांव पहुंच कर किसानों से चर्चा की और दोनों गांवों में लगभग 8 घंटे ड्रोन चलाया गया। इसके साथ ही बाघ के पगमार्क पर प्लास्टर पाउडर डालकर पगमार्क के चिन्ह लिए गए। इस मौके पर सरपंच शर्मिला उइके और वन समिति अध्यक्ष सटन इवने सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे। वन अधिकारियों ने उन्हें समझाइश दी कि वे सावधानी से रहे। अंधेरा होने से पूर्व मवेशियों सहित खुद भी अपनी सुरक्षा के लिए घर वापस आ जाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *