Sun. Mar 3rd, 2024

विधायक गंगा उइके ने किया विद्यालय का निरीक्षण

विधायक गंगा उइके ने किया विद्यालय का निरीक्षण

शाहपुर शेलेन्द्र गुप्ता :- पिछले कुछ दिनों से एकलव्य आदर्श आदिवासी विद्यालय में भ्रष्टाचार को लेकर ताप्ती समन्वय में लगातार समाचार के प्रकाशित होने के बाद आज रविवार को घोड़ाडोगरी विधानसभा की लोक प्रिया विधायक गंगा सज्जन सिंह उईके पहुंची एकलव्य आदर्श आदिवासी विद्यालय एवम छात्रावास का किया उचित निरीक्षण भारी अनिमिक्त को देखते हुए प्राचार्य डोनिवाल को फटकार लगाते नजर आई विधायक ने बताया कि समाचार पत्रों में प्रकाशित के दौरान उचित निरीक्षण के लिए आई जिसमें भारी अनिमिक्ता देखने को मिली जैसे रविवार को भी छात्रावास में टॉयलेट में गंदगी मिली और चुनाव के दो माह वित जाने के बाद भी विधायक व मुख्यमंत्री का नाम पुराना ही लिखा हे जिसे नहीं बदले जाने पर नाराजगी जाहिर की और प्राचार्य को बताया कि शिक्षा विभाग में यह लापरवाही बरती जा रही है इसे क्या माने इससे बच्चों को क्या जानकारी मिलेगी की अभी भी हमारे प्रदेश के मुख्यमंत्री कौन है वह अपने क्षेत्र की विधायक के बारे में क्या जानेंगे

एवं ट्राइबल विभाग में चल रहे निर्माण कार्य का भी निरीक्षण किया जिसमें ठेकेदार द्वारा सूचना पाठक बोर्ड भी मौके पर नहीं लगाए गए और भारी अनिमिक्ता को देखते हुए प्राचार्य से निर्माण एजेंसी का नाम पूछने पर

एकलव्य विधालय में बन रही करोड़ों की लागत की बिल्डिंग का निरीक्षण करने पहुंची विधायक गंगाबाई ऊईके

निर्माण स्थल पर न तो कोई ठेकेदार का जिम्मेदार कर्मचारी न ही कोई इंजीनियर मौजूद।

विगत दो वर्ष से बिल्डिंग का निर्माण कार्य शुरू लेकिन निर्माण कार्य शुरू होने के बाद दो वर्षो में ऐ सी ने कभी नहीं किया निर्माण कार्य का निरीक्षण। और बताया कि शायद भोपाल की कोई बालाजी कंपनी का ठेका है

  • एकलव्य माडल स्कूल के प्राचार्य भी बिल्डिंग की सभी जानकारी से अनभिज्ञ। विधायिका के सामने कार्यकर्ताओं ने मौके पर रखी फ्लआईऐंश ईंट को ठोककर देखा

नहीं का जवाब पाया और स्कूल से ही बिजली दी जा रही है इसको लेकर भी विधायक ने नाराज की जताई एक जनप्रतिनिधि होने के नाते विधायक ने ऐसी मैडम शिल्पा जैन को भी कॉल कर जानकारी ली उनके द्वारा भी निर्माण एजेंसी का नाम नहीं बताया गया अगर यह हाल है कि विधायक को ही निर्माण एजेंसी के नाम व कितने की लागत से हो रहे निर्माण कार्य की जानकारी नहीं मिल पा रही है तो आम जनता तो जान ही नहीं पाएगी की क्या बन रहा है कितने की लागत से है ठेकेदार का नाम क्या है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *