Fri. Jun 14th, 2024

सारणी पाथाखेड़ा के कोयला खदान पर अज्ञात हथियारबंद बदमाशों ने बोल धावा मौके पर तीन थानों का पुलिसबल पहुँचा

सारणी पाथाखेड़ा के कोयला खदान पर अज्ञात हथियारबंद बदमाशों ने बोल धावा मौके पर तीन थानों का पुलिसबल पहुँचा

बैतूल। सारनी के पाथाखेड़ा क्षेत्र की  कोयला खदानों में बदमाशों का आतंक खूब देखने को मिल रहा है। कभी खदान परिसर में कार्यरत कोयला कर्मियों के साथ मारपीट की वारदात कर रहे हैं तो कभी खदान परिसर में रखें कीमती स्पेयर पार्ट्स पर हाथ साफ कर रहे हैं। सोमवार रात तवा 1 खदान पर चोरों ने ऐसा आतंक मचाया की, कोयला कर्मी खोफजदा है। स्क्रैप चोरों ने खदान परिसर में कार्यरत सुरक्षाकर्मी प्रकाश यादव के हाथ पर फरसा मार दिया। जिससे प्रकाश के हाथ में चोट पहुंची है। सुरक्षा कर्मी प्रकाश को प्राथमिक उपचार के बाद उचित इलाज के लिए नागपुर के आर एन एच अस्पताल रेफर किया है। स्क्रैप चोरों के आतंक का शिकार कंपनी के कर्मियों के अलावा वाहन चालक और प्राइवेट कर्मचारी भी हुए हैं। चोरों ने एक दो नहीं बल्कि आधा दर्जन लोगों के साथ खदान परिसर में मारपीट की है। पाथाखेड़ा पुलिस ने भी बिना देर किए  चोरों के विरुद्ध शासकीय संपत्ति को नुकसान पहुंचाने, शासकीय कर्मचारी के साथ मारपीट करने समेत विभिन्न धाराओं में अपराध पंजीबद्ध किया है। खदानों में बढ़ते अपराधों पर अंकुश लगाने कंपनी प्रबंधन और यूनियन प्रतिनिधियों का एक दल होशंगाबाद रेंज के आईजी से मुलाकात करने पहुंचा है।

मौके पर पहुँची तीन थानों की पुलिस

खदान में हुई वारदात की खबर जंगल की तरह पूरे जिले और प्रदेश में फैल गई। डब्ल्यू सी एल के यूनियन प्रतिनिधि और प्रबंधन के आला अफसर द्वारा इस पूरे घटनाक्रम की सूचना जनप्रतिनिधियों से लेकर आईजी तक को दी। वहीं वारदात की अगली सुबह वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के निर्देशन पर एसडीओपी रोशन कुमार जैन सारणी, रानीपुर, चोपना थानों के अलावा पाथाखेड़ा और घोड़ाडोंगरी चौकी के बल को अपने साथ लेकर खदान पर आतंक फैलाने वाले बदमाशों के गांव पहुंच गए। गांव में भारी संख्या में पुलिस को देखते ही लोग असमंजस में पड़ गए। मुखबिर की सूचना पर पुलिस टीम आतंक फैलाने वाले व्यक्ति के घर तक जा पहुंची। लेकिन पुलिस बल को चकमा देकर खदान पर आतंक मचाने वाला शातिर बदमाश खेत और जंगल के रास्ते भाग निकला।

तीन थानों और दो चौकी के बल ने दी दबिश खदान में हुई वारदात की खबर जंगल की तरह पूरे जिले और प्रदेश में फैल गई। डब्ल्यू सी एल के यूनियन प्रतिनिधि और प्रबंधन के आला अफसर द्वारा इस पूरे घटनाक्रम की सूचना जनप्रतिनिधियों से लेकर आईजी तक को दी। वहीं वारदात की अगली सुबह वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के निर्देशन पर एसडीओपी रोशन कुमार जैन सारणी, रानीपुर, चोपना थानों के अलावा पाथाखेड़ा और घोड़ाडोंगरी चौकी के बल को अपने साथ लेकर खदान पर आतंक फैलाने वाले बदमाशों के गांव पहुंच गए। गांव में भारी संख्या में पुलिस को देखते

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *