Sat. Mar 2nd, 2024

स्वच्छता सर्वेक्षण में पिछड़ा बैतूल13 रैंक फिसलकर 54 पर पहुंचा , पिछले साल थी 41वी रैंक

स्वच्छता सर्वेक्षण में पि छड़ा बैतूल 13 रैंक फि सलकर 54 पर पहुंचा , पि छले सा ल थी 41वी रैंक

बैतूल। श भर में आज आए स्वच्छता सर्वेक्षण के नतीजों के बाद बैतूल नगरपालिका नेशनल रैंक में 13 पायदान फिसल कर 54 वे स्थान पर पहुंच गई है। केंद्रीय शहरी एंव आवास मंत्रालय द्वारा गुरुवार को नई दिल्ली के प्रगति मैदान में स्वच्छ सर्वेक्षण के परिणाम घोषित किए गए है। पिछले साल बैतूल की रैंक 41वीं थी । इसके अलावा जिले की अन्य नगर पालिकाओं की रैंक भी बदतर स्थिति में पहुंच गई है। स्वच्छता में नगर पालिका के अमले के द्वा रा भी को ई कमाल नहीं दिखा ,जिसके कारण यह स्टेट की रैंक में भी पिछड़ गई है।जी एफसी और ओडी एफ का मि ला फि र से दर्जा जि ले की को ई भी नगरपा लि का न तो प्रदेश न ही देश में टॉ प टेन में शा मि ल हो सकी ।

बैतूल नगरपा लि का ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2022-23 के परि णा मों में एक से ती न ला ख वा ली आबा दी वा ली नगरपा लि का ओं में देश में 14वां स्था न मि ला । इस लिहाज से इस बार बैतूल नगरपालिका 13 पायदान फिसल गई है। बैतूल नगरपालिका ने प्रदेश में 13वीं और संभाग में 2 रैंक हासिल की है। हालांकि बैतूल को जी एफसी और ओडीएफ ++ का दर्जा दो बार मिल गया है। पा लि का ने कई अन्य मामले में अच्छे अंक हासिल किए हैं। सेवा स्तर प्रगति में 4 हजा र 830 में से 3 हजा र 643 अंक, जी एफसी , ओडी एफ++ प्रमा णी करण 2500 में से 1250, ना गरि क प्रति क्रि या में 2170 में से 1916 अंक प्रा प्त हुए। प्रति शत के आधा र पर अंकों की गणना में घर-घर कचरा संग्रहण में 99 प्रति शत कचरे के पृथककी करण में 99 प्रति शत, रहवा सी क्षेत्र में सफा ई व्यवस्था

पर 98 प्रति शत, व्यवसा यि क और सा र्वजनि क क्षेत्रों में सफा ई व्यवस्था पर 98 प्रति शत, जली य संरचना ओं की सफा ई,
सा र्वजनि क शौ चा लय की सफा ई में सौ प्रति शत अंक मि ले हैं। अलबत्ता शहर में कुल कचरे के प्रसंस्करण में कुल पचा स
प्रति शत, पुरा ने कचरे के नि पटा रण में जी रो प्रति शत अंक मि ले हैं।
रैंक सुधा र के लि ए करेंगे बेहतर का र्य
बैतूल सी एमओ ओमपा ल सिं हसिं भदौ रि या ने भा स्कर से चर्चा में कहा की वे जब ट्रां सफर हो कर बैतूल पहुंचे थे।तब यहां सर्वे
की का र्रवा ई पूरी हो चुकी थी । इसलि ए उनके लि ए उस समय करने के लि ए कुछ नही था । पूर्ववर्ती नगरपा लि का छतरपुर में
उनके का र्यका ल के का म की वजह से उसे थ्री स्टा र रेटिं ग मि ली है।अब यहां रैंक सुधा र के लि ए बेहतर का म कि या जा एगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *