Fri. Jul 19th, 2024

MP NEWS : मर्यादित कपड़े पहने हों तो ही मंदिर में मिल पायेगा प्रवेश

MP

MP NEWS बैतूल।  देश मे सनातन धर्म के मुद्दे का असर अब महानगरों से निकलकर छोटे छोटे शहरों में भी दिखाई देने लगा है। लोगों मे सनातन धर्म के प्रति जहां सम्मान नजर आ रहा है तो वहीं आधुनिकता की परिपाटी मे घुल रहे युवा वर्ग की मानसिकता और सोच में भी सनातनी रिवाज अपनाये जाने की कोशिशें शुरू ही चुकी हैं। मंदिरों में पूजा पाठ के साथ मर्यादा का भी पूरा पालन कराया जा सके इसका क्रियान्वयन भी कराया जाना शुरू हो चुका है।

MP के बैतूल में भी शंकर वार्ड में स्थित मंदिर में मर्यादित वस्त्र पहनकर मंदिर में प्रवेश करने के निर्देश दिए

MP

अभी तक तो बड़े मंदिरों में ही वस्त्र पहने को लेकर दिशा निर्देश जारी होते थे, लेकिन बैतूल में भी शंकर वार्ड में स्थित मंदिर में मर्यादित वस्त्र पहनकर मंदिर में प्रवेश करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके लिए बाकायदा मंदिर समिति ने एक बोर्ड बनवाकर मंदिर की दीवार पर लगवा दिया है।जिस पर लिखा है कि मंदिर परिसर में मर्यादित वस्त्र पहनकर ही प्रवेश करें। देखा जाए तो सीधे तौर पर जींस या टॉप पर प्रतिबंध ना लगाते हुए मर्यादित कपड़े पहनने के निर्देश मंदिर समिति ने दिए हैं।

पहनावे से भी लगता है आस्था का अंदाजा आमतौर पर देखने मे आ रहा है कि, समाज का युवा वर्ग आधुनिकता की दौड इतनी तेजी से दौड़ रहा है कि इसके पीछे सनातनी अवधारणा और मर्यादा काफी पीछे छूटती जा रही है। युवा वर्ग हर वो चीज आत्मसात करना चाहता है जो सीधे सीधे आधुनिकता के साथ साथ उनके स्टेटस कोभी प्रदर्शित करती है। इसमें पहनावा प्रमुख रुप से शामिल है।लड़के हों चाहे लड़कियां आधुनिक युग के हिसाब से ऐसा पहनावा पहना जा रहा है जो सीधे सीधे मर्यादा को चुनोती दे रहा है।

समझा जा सकता है कि अमर्यादित पहनावे में वेछोटे छोटे कपड़े शामिल हैं जो आमतौर पर हिंदुस्तानी नहीं बल्कि पश्चिमी सभ्यता के प्रतीक माने जाते हैं। ऐसे में धार्मिक स्थलों पर इस तरह से फरमान जारी करना सनातनी सभ्यता को बढ़ावा देने जैसा ही प्रतीत हो रहा है। जो कि आनेवाले समय मे सकारात्मक परिणाम के रूप में भी देखने को मिल सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *