Fri. Feb 23rd, 2024

आग से जले वृद्ध की मौत क्रेशर पर चौकीदारी करता था, आग तापते समय हाथ और पैर जले, इलाज के दौरान गई जान

क्रेशर पर चौकीदारी करता था, आग तापते समय हाथ और पैर जले, इलाज के दौरान गई जान

बैतूल। छिंदवाड़ा जिले के दमुआ में एक गिट्टी क्रेशर पर चौकीदार वृद्ध की आज बैतूल के पाढर अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। वृद्ध आग से तापते हुए जल गया था। उसका शव लेकर आज पाढर पुलिस जिला अस्पताल पहुंची।

रामकिशन (71) छिंदवाड़ा जिले के दमुआ में गिट्टी क्रेशर पर चौकीदार था। बताया जा रहा है की 17 दिन पहले 30 दिसंबर को वह क्रेशर पर आग जलाकर आग ताप रहा था। इसी बीच वह बेकाबू होकर आग में गिर पड़ा। इससे उसके हाथ और पैर जल गए थे।

घटना की जानकारी मिलने के बाद क्रेशर संचालक ने पहले वृद्ध का दमुआ में ही निजी तौर पर इलाज कराया और उसे घर पर छुड़वा दिया। यहां जब उसकी हालत बिगड़ने लगी तो उसे छिंदवाड़ा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उसकी हालत में कोई सुधार नहीं हुआ। जिसके बाद परिजन उसे लेकर बैतूल के पाढर हॉस्पिटल लेकर पहुंचे थे।

वृद्ध यहां तीन दिन भर्ती रहा जहां आज उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। वृद्ध के तीन पुत्र है। बड़े बेटे ने बताया की वे लोग पिता को काम करने से मना भी करते थे, लेकिन वे नहीं मानते थे। आग में उनके दोनों हाथ और दोनों पैर जल गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *