Fri. Jul 19th, 2024

ताप्ती जन्मोत्सव पर आने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए कलेक्टर ने दिए सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त के निर्देश फोटो 1

मुलताई। आगामी 13 जुलाई को पवित्र नगरी में आयोजित होने वाले मां ताप्ती जन्मोत्सव के दौरान उमड़ने वाली श्रद्धालुओं की भीड़ को दृष्टिगत रखते हुए प्रशासन अलर्ट मोड पर आ गया है। बीते दिनों हाथरस में हुई घटना के बाद से प्रशासन अतिरिक्त सतर्कता बरतने के मूड में दिखाई दे रहा है। जिसकी बानगी म ताप्ती जन्मोत्सव के आयोजन के पूर्व ताप्ती उद्गम स्थल पहुंचे जिला कलेक्टर के रवैए से समझी जा सकती है। श्रद्धालुओं की भीड़ के दौरान कोई भी विपरीत परिस्थिति निर्मित नहीं हो इसके लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम के साथ अनुकूल व्यवस्था बनाने के लिए शुक्रवार को कलेक्टर नरेंद्र कुमार सूर्यवंशी ने मुलताई पहुंचकर ताप्ती सरोवर के तट पर स्थित श्री राम मंदिर में जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में कलेक्टर ने व्यवस्था में कोई भी लापरवाही नहीं बरतने के सख्त निर्देश दिए अन्यथा कड़ी कार्रवाई के संकेत भी दिए। शुक्रवार को श्री राम मंदिर में आयोजित बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष, नगर पालिका अध्यक्ष वर्षा गढेकर जनपद पंचायत अध्यक्ष , सभापति पंजाबराव चिकाने, रितेश विश्वकर्मा, शिल्पा शर्मा, एसडीएम अनिता पटेल,नपा सीएमओ आर के इवनाती, सहित अन्य अधिकारियों की उपस्थित थी सीएमओ श्री इवनाती ने 11 जुलाई से 13 जुलाई तक मनाया जाने वाले जन्मोत्सव के कार्यक्रम की जानकारी दी ।नपा अध्यक्ष वर्षा गढेकर ने बताया तीन स्थानों पर पौधारोपण किया जाएगा और 1100 पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है ।कलेक्टर ने कहा पौधारोपण कार्यक्रम में आमजन को भी जोडे। कलेक्टर श्री सूर्यवंशी ने एसडीएम को जन्मोत्सव के अवसर पर निकलने वाली शोभायात्रा के रूट का निरीक्षण करने और शोभायात्रा में पहली बार शामिल हो रही 18 फीट ऊंची हनुमान जी की प्रतिमा को दृष्टिगत रखते हुए शोभायात्रा के दौरान कोई दिक्कत ना हो इसलिए बिजली कंपनी के सहायक महाप्रबंधक संजय यादव को व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एक निश्चित प्लान बनाएं। ताप्ती सरोवर के घाटों पर पूजा अर्चना करने के दौरान श्रद्धालुओं की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखें घाटों पर रस्सी लगाई जाए। कलेक्टर ने कहा आमतौर पर कोई विपरीत घटना होने से जिम्मेदारी लेने वाले भाग जाते हैं इसलिए सुरक्षा में कोई भी लापरवाही नही हो इस बात का ध्यान रखें।
ताप्ती मंदिर में बाहर से दर्शन की व्यवस्था बनाएं
कलेक्टर श्री सूर्यवंशी ने बैठक में कहा जन्मोत्सव के दिन मंदिर में श्रद्धालुओं को अंदर प्रवेश नहीं देते हुए बाहर से दर्शन की व्यवस्था बनाएं। सरोवर में तीन नाव के साथ सुरक्षा उपकरण और तैराक मौजूद रहे। लाइटिंग की व्यवस्था लूज नहीं हो इसका विशेष ध्यान रखें। सुरक्षा के लिए बनाए गए कंट्रोल रूम में पूरी टीम मौजूद रहे। वॉटरप्रूफ पंडाल बनाया जाए। सुरक्षा व्यवस्था के लिए पंचायत सचिव, नपा कर्मी और नगर रक्षा समिति के सदस्यों को परिचय पत्र जारी करें। परिचय पत्र में किस स्थान पर जिम्मेदारी संभालना है इसका भी उल्लेख होना चाहिए। स्नान घाटों पर पंचायत सचिवो की आठ आठ घंटे की ड्यूटी रहेगी।साथ ही मेडिकल टीम पूरी दवाइयां के साथ तैनात रहेंगी।
उद्गम स्थल के 200 मीटर की परिधि में भंडारे और प्रसादी के स्टॉल नहीं लगाए जा सकेंगे स्टॉल
कलेक्टर ने कहा भीड़ को दृष्टिगत रखते हुए ताप्ती सरोवर के 200 मीटर की परिधि में कोई भी भंडारे और प्रसादी वितरण का स्टॉल नहीं लगेगा। भंडारा प्रसाद वितरित करने वालों पर सफाई की जिम्मेदारी भी रहेंगी। यदि साफ सफाई नहीं की तो ग्यारह ग्यारह हजार रुपए का जुर्माना लगाने की हेतवानी दी।
वाहनों के पार्किंग की व्यवस्था भी बनाएं
कलेक्टर ने श्री सूर्यवंशी ने जन्मोत्सव के दिन बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के दो पहिया और चौपहिया वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए। नगर के मध्य से गुजरने वाले मार्ग पर वाहनों का आवागमन प्रतिबंध रहेगा। आवागमन की व्यवस्था एडीईओ और आरईओ देखेंगे। कलेक्टर श्री सूर्यवंशी ने कहा नगर के मध्य से गुजरने वाले मार्ग पर स्थित दुकान संचालक दुकानों का सामान बाहर न रखें इसके लिए पूर्व से मुनादी की जाए। ट्रांसफार्मर के आसपास बेरीकेटिंग लगाई जाए और लाइनमैनो की आठ आठ घंटे की ड्यूटी लगाए। आतिशबाजी के दौरान भी सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश कलेक्टर ने दिए। साथ ही वीआईपी और संतो के आगमन पर उनकी माकूल सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए। बैठक में उपस्थित जन प्रतिनिधियों ने ताप्ती जन्मोत्सव के दिन सार्वजनिक अवकाश घोषित करने की मांग पर कलेक्टर ने शासन से उचित मार्गदर्शन लेने की बात कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *